इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूएल सुपरएन्युएशन प्लान

अपने कर्मचारियों और उनकी सेवानिवृत्ति को सुरक्षित करें

IndiaFirst Life Group UL Superannuation Plan helps you to invest the funds set aside towards your member’s pension benefit into market linked investments, during their employment. With this plan you can now ensure that your members can spend the rest of their lives peacefully.

REASONS TO BUY INDIAFIRST LIFE GROUP UL SUPERANNUATION PLAN

  • Manage your future employee retiral benefits such as Superannuation through a transparent and value for money plan.

  • You may choose to pay the entire contribution on behalf of your members, or it can be paid by both - you and your member.

  • You may optimize your investment returns by choosing between 3 funds across different asset classes or by choosing any of the 3 Investment Strategies

  • Your members actually get to see the money grow by watching it being invested in various funds/ investment strategies available under the policy

  • Members can track their own investment with the option of individual member level accounts in the policy

  • Your contribution is a deductible business expense under Section 36 (1) (IV) of the Income Tax Act, 1961

  • Any contribution made by the member(s) towards the Superannuation will be entitled for deduction under Section 80 (C), Income Tax Act, 1961

क्या हैं इस पॉलिसी के पात्रता मापदण्ड?

  • प्रवेश के समय न्यूनतम और अधिकतम आयु क्रमश: 18 एवं 70 तक हो सकती है।અને 70 વર્ષ છે.

  • सामान्य निकासी के लिए कोई न्यूनतम आयु नहीं है। निकासी की अधिकतम आयु 71 वर्ष है।

  • इसमें न्यूनतम 10 लोगों के समूह आकार को कवर किया जा सकता है। समूह के अधिकतम आकार की कोई सीमा नहीं है।

  • न्यूनतम (आरम्भिक) वार्षिक योगदान रु 50,000/- होना चाहिए। अधिकतम योगदान या फंड के अधिकतम आकार की कोई सीमा नहीं है।

  • No limit on the size of fund

  • An Optional life cover of Rs 5000 as death benefit

Product Brochure

Download Brochure File

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूएल सुपरएन्युएशन प्लान


एक अधिवर्षिता पेंशन प्लान आपके कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति के बाद भी उनकी वित्तीय स्वतंत्रता सुनिश्चित करता है। कोई भी संगठन अपने कर्मचारियों से मिलकर बना होता है - वे किसी भी कम्पनी का हृदय और आत्मा होते हैं। इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूएल सुपरएन्युएशन प्लान के साथ नियोक्ता अपने कर्मचारियों के प्रति अपनी जिम्मेदारियां पूरी कर सकते हैं और उन्हें अपनी श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ सेवानिवृत्ति लाभ प्रदान कर सकते हैं, जिसके वे हकदार हैं।  इस ग्रुप यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान को इस प्रकार से बनाया गया है, कि आपको अपने कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति के बाद उन्हें अधिवर्षिता लाभों का भुगतान करने के लिए आपके पास एक फंड तैयार करने में सहायता मिले।

यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान नियोक्ता और कर्मचारियों दोनों की जरूरतें पूरी करते हैं। नियोक्ता एक संतुष्ट वर्कफोर्स पर भरोसा कर सकते हैं, जो कम्पनी के लिए परिश्रम के साथ काम करे, और वे उनकी जरूरतों का ध्यान रखें। ऐसे में कर्मचारियों के पास अपने संगठन के प्रति निष्ठावान बने रहने के लिए एक इन्सेन्टिव होता है, तथा उन्हें उनकी जरूरत के समय अधिवर्षिता लाभ मिलता है।

अपने और अपने प्रियजनों के लिए वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित किए बिना रिटायरमेंट की आयु पर पहुंच जाना एक चिंताजनक स्थिति हो सकती है। इंडियाफर्स्ट ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के साथ आप अपने कर्मचारियों के मन से यह चिंता दूर कर सकते हैं, आप इस प्रयोजन एक विशेष फंड बनाने के द्वारा अपने कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति लाभों का भुगतान कर सकते हैं।

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूएल सुपरएन्युएशन प्लान क्या है?


इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान प्रति वर्ष नवीकरण कराया जाने वाला, ग्रुप यूनिट लिंक्ड प्लान है, जो अधिवर्षिता लाभ के रूप में कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति जरूरतों को पूरा करता है। इस ग्रुप यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान के अन्तर्गत नियोक्ता के पास अपने कर्मचारियों की पेंशन आवश्यकताओं को पूरा करने हेतु फंड तैयार करने के लिए एक लचीला एवं किफायती तरीका होता है।

अधिवर्षिता

अधिवर्षिता का अर्थ होता है कार्य करने में अक्षम होने पर सेवानिवृत्त हो जाना अथवा एक पूर्व-निर्धारित आयु पर पहुंच जाना। जहां पेंशन प्लान में कर्मचारी अपने लिए निवेश करना चुन सकते हैं, वहीं इसके विपरीत एक अधिवर्षिता पेंशन प्लान कम्पनी द्वारा लिया जाता है, जिसे वह अपने कर्मचारियों को सेवा लाभ या सेवानिवृत्ति लाभ के रूप में प्रदान करती है। अधिवर्षिता लाभ एक संगठन पेंशन प्लान के माध्यम से प्रदान किए जाते हैं, जिसे नियोक्ता अपनी कम्पनी के कर्मचारियों की बेहतरी के लिए बनाता है।

लिंक्ड

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान एक मार्केट-लिंक्ड प्लान है, जो अधिवर्षिता लाभ प्रदान करता है। एक यूनिट लिंक्ड प्लान में संचित निधियों को पूंजी बाजार में निवेश किया जाता है। इन फंड को ईक्विटी इंस्ट्रूमेंट्स,  डेब्ट इंस्ट्रूमेंट्स या दोनों के संयोजन में निवेश किया जा सकता है, जो कि प्लान पर निर्भर करता है।

ग्रुप पेंशन प्लान

एक ग्रुप प्लान में नियोक्ता मास्टर पॉलिसीधारक होता है, तथा कर्मचारी - समूह सदस्य अथवा पॉलिसी के लाभार्थी होते हैं। ग्रुप प्लान में सभी सदस्यों को मानकीकृत लाभ प्रदान किया जाता है, क्योंकि वे सभी लोग एक ही संविदा के तहत कवर्ड होते हैं। एक समूह अधिवर्षिता पेंशन योजना के साथ, नियोक्ता अपने सभी कर्मचारियों को एक ही प्लान के माध्यम से अधिवर्षिता लाभ प्रदान करता है, जिसे प्रति वर्ष नवीकरण करवाना होता है। आवश्यकता के अनुसार ग्रुप प्लान में नए कर्मचारी भी जोड़े जा सकते हैं।

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान एक फंड-आधारित समूह अधिवर्षिता उत्पाद है। यह नियोक्ता-कर्मचारी समूहों के लिए योजना के नियमों के अनुसार अधिवर्षिता लाभ कवर करता है। नियोक्ता अथवा नियोक्ता द्वारा गठित न्यास (ट्रस्ट) इसका मास्टर पॉलिसीधारक होता है, जो योजना के नियमों के अनुसार आवश्यक अधिवर्षिता लाभ प्रदान करने के लिए फंड को प्रबन्धित करता है। एक न्यासी (ट्रस्टी) के रूप में, यह अधिवर्षिता पेंशन योजना आपको यह सुविधा देती है कि आप अपने निवेश प्रतिफल को अधिकतम कर सकें तथा अपने कर्मचारियों के प्रति अपने दायित्वों को किफायत एवं समझदारी से पूरा कर सकें।

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की प्रमुख विशेषताएं क्या हैं?


आप अर्थात मास्टर पॉलिसीधारक के लिए:

  • आप अपने सभी सदस्यों के लिए सेवानिवृत्ति लाभ कवर करना चुन सकते हैं।
  • आप अपने सदस्यों की ओर से समग्र योगदान का भुगतान करना चुन सकते हैं, अथवा इसे आप और आपके सदस्य - दोनों द्वारा भुगतान किया जा सकता है।
  • आप विभिन्न परिसम्पत्ति श्रेणियों के बीच में 3 फंड चुनने अथवा 3 निवेश रणनीति में से किसी एक को चुनने के द्वारा अपने निवेश प्रतिफल को ईष्टतम बना सकते हैं।

आपके सदस्य:

  • उनकी सेवानिवृत्ति को सुरक्षित बनाने का एक अवसर पाएं
  • पॉलिसी के अन्तर्गत उपलब्ध विभिन्न फंड / निवेश रणनीतियों में निवेश करने के द्वारा अपने धन को वृद्धि करते हुए देखें।
  • पॉलिसी में पृथक सदस्य स्तर खातों के विकल्प के साथ उनके निवेश को ट्रैक करें

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के लिए क्या पात्रता मानदंड हैं?


इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के लिए प्रमुख पात्रता मानदण्ड इस प्रकार हैं:

  • इस ग्रुप यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान के अन्तर्गत प्रवेश की न्यूनतम आयु आपके अन्तिम जन्मदिवस पर 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • इस समूह अधिवर्षिता पेंशन योजना के अन्तर्गत प्रवेश के समय अधिकतम आयु आपके अन्तिम जन्मदिवस पर 70 वर्ष होनी चाहिए।
  • इस अधिवर्षिता पेंशन प्लान के अन्तर्गत निकासी की अधिकतम आयु आपके अन्तिम जन्मदिवस पर 71 वर्ष होनी चाहिए।  
  • यदि केवल मास्टर पॉलिसीधारक द्वारा भुगतान किया जा रहा हो, तो प्रीमियम भुगतान मोड वार्षिक है। वैसे, यदि लाइफ कवर प्रीमियम का भुगतान मास्टर पॉलिसीधारक एवं सदस्यों द्वारा अलग-अलग किया जा रहा है, तो वार्षिक, अर्द्ध-वार्षिक, त्रैमासिक या मासिक रूप से प्रीमियम का भुगतान किया जा सकता है।
  • इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत न्यूनतम आरम्भिक योगदान रु 1,00,000 प्रति पॉलिसी है। इसमें अधिकतम योगदान की कोई सीमा नहीं है।
  • इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान केवल नियोक्ता-कर्मचारी समूहों को कवर करता है। इसमें समूह का न्यूनतम आकार 10 लोगों का है; इसमें समूह के अधिकतम आकार की कोई सीमा नहीं है।
  • इस अधिवर्षिता पेंशन योजना के अन्तर्गत योगदानकर्ता मास्टर पॉलिसीधारक, सदस्य, या दोनों हो सकते हैं।
  • इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत योजना की अवधि 1 वर्ष है, तथा इसे मास्टर पॉलिसीधारक द्वारा प्रति वर्ष नवीकरण करवाना होता है।
  • मृत्यु की स्थिति में बीमाधन रु 5,000 प्रति सदस्य निर्धारित किया गया है, यदि चुना गया हो तो।.

आपको इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान खरीदने की जरूरत क्यों है?


इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूएल सुपरएन्युएशन प्लान आपको अपने कर्मचारियों की सेवा अवधि के दौरान उनकी सेवानिवृत्ति लाभ जैसे कि उनके पेंशन के लिए अलग रखे हुए फंड को मार्केट-लिंक्ड निवेश में निवेश करने में सहायता करता है। इस प्लान के साथ अब आप सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपके सदस्य अपने शेष जीवन के लिए वित्तीय स्वतंत्रता का आनंद ले सकें।

  • इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान आपको अपने कर्मचारियों के लिए एक पृथक फंड तैयार करने में सक्षम बनाता है।
  • आप अपनी कार्य पूंजी को सेवानिवृत्ति के समय भारी-भरकम पे-आउट के बोझ से सुरक्षित रख सकते हैं।
  • आप अपने कर्मचारी के भविष्य के सेवानिवृत्ति लाभों जैसे कि अधिवर्षिता को एक पारदर्शी एवं वैल्यू-फॉर-मनी प्लान के माध्यम से प्रबन्धित कर सकते हैं।
  • आपके सदस्य वास्तव में पॉलिसी के अन्तर्गत उपलब्ध विभिन्न फंड / निवेश रणनीतियों में निवेश करने के द्वारा अपने धन को वृद्धि करते हुए देखते हैं।
  • आप विभिन्न परिसम्पत्ति श्रेणियों के बीच में 3 फंड चुनने अथवा 3 निवेश रणनीति में से किसी एक को चुनने के द्वारा अपने निवेश प्रतिफल को ईष्टतम बना सकते हैं।
  • सदस्य पॉलिसी में पृथक सदस्य स्तर खातों के विकल्प के साथ उनके निवेश को ट्रैक कर सकते हैं।
  • आप अपने सदस्यों की ओर से समग्र योगदान का भुगतान करना चुन सकते हैं, अथवा इसे आप और आपके सदस्य - दोनों द्वारा भुगतान किया जा सकता है। आपका योगदान आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 36 (IV) के अन्तर्गत एक कटौती योग्य व्यावसायिक व्यय है। सदस्यों द्वारा सुपरएन्युएशन के लिए दिया जाने वाला कोई भी योगदान आयकर अधिनियम 1961, की धारा 80 (C) के अन्तर्गत कटौती के लिए पात्र है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान खरीदने के क्या लाभ हैं?


इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत नियोक्ता एवं कर्मचारियों दोनों को लाभ मिलते हैं। नियोक्ता अपने कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति के समय उनके प्रति कुछ दायित्वों के लिए जिम्मेदार होते हैं। इस ग्रुप यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान के अन्तर्गत कर्मचारी अधिवर्षिता लाभ प्रदान करने के द्वारा कम्पनी अपनी जिम्मेदारियों को पूरा कर सकती है तथा कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति के बाद भी उन्हें वित्तीय रूप से सुरक्षित रखने के लिए एक कदम आगे जा सकती है।

अधिवर्षिता लाभों के लिए स्कीम

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान में मास्टर पॉलिसीधारक निर्णय लेता है कि संचित फंड को सदस्य की निकासी या सेवानिवृत्ति या मृत्यु के समय पर कैसे उपयोग करना है। इसमें आपके पास चुनने के लिए दो स्कीम विकल्प हैं। जारी किया जाने वाला यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान प्रत्येक स्कीम के लिए अलग-अलग होते हैं।

निर्धारित योगदान स्कीम अधिवर्षिता लाभ

एक निर्धारित योगदान योजना में, अधिवर्षिता पेंशन योजना के लिए किया जाने वाला योगदान पूर्व-निर्धारित होता है। इस स्कीम के अन्तर्गत प्राप्त होने वाले अधिवर्षिता लाभ, बाजार स्थितियों तथा किए गए योगदान के साथ सीधे सह-सम्बन्धित होते हैं। इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के की निर्धारित योगदान (डीसी) स्कीम के अन्तर्गत सदस्यों के लिए पृथक खाते बनाए जाते हैं। मास्टर पॉलिसीधारक, कर्मचारी / सदस्य, अथवा दोनों स्कीम के नियमों के अनुसार आवश्यक योगदान कर सकते हैं। स्कीम नियमों में अधिवर्षिता लाभ भुगतान की राशि तथा सदस्य को लाभ भुगतान का समय निर्दिष्ट किया जाता है। लाभ का भुगतान निवेशित फंड से किया जाएगा, जो कि सदस्य / पॉलिसीधारक की अधिवर्षिता निधि में सम्बन्धित यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन होगा।

मृत्यु लाभ

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की डीसी स्कीम के अन्तर्गत मृत्यु लाभ, पृथक सदस्य की पॉलिसी यूनिट फंड वैल्यू के बराबर होती है (उस सदस्य के अधिवर्षिता फंड में तदनुरूपी यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन)। यदि चुना गया हो, तो रु 5,000 प्रति सदस्य का अतिरिक्त लाभ नामिती को देय होता है। मृत्यु लाभ का भुगतान किए जाने के बाद सदस्य के लिए सभी लाभ समाप्त हो जाएंगे।

निहित लाभ (वेस्टिंग बेनिफिट)

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की डीसी स्कीम के अन्तर्गत निहित लाभ (वेस्टिंग बेनिफिट), पृथक सदस्य की पॉलिसी यूनिट फंड वैल्यू के बराबर होती है (उस सदस्य के अधिवर्षिता फंड में तदनुरूपी यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन)। निहित लाभ (वेस्टिंग बेनिफिट) का भुगतान किए जाने के बाद सदस्य के लिए सभी लाभ समाप्त हो जाएंगे।

निकासी लाभ (एक्जिट बेनिफिट)

निकासी (एक्जिट) (सेवा समाप्ति / समयपूर्व सेवानिवृत्ति / पदत्याग आदि) पर सदस्य को पृथक सदस्य की पॉलिसी यूनिट फंड वैल्यू के बराबर धनराशि मिलती है (उस सदस्य के अधिवर्षिता फंड में तदनुरूपी यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन)। इस लाभ के भुगतान पर सदस्य के लिए सभी लाभ समाप्त हो जाएंगे। स्कीम नियमों के अलावा किसी अन्य तरीके से निकासी की स्थिति में आहरण (विड्रॉल) की अनुमति नहीं होगी। निकासी की स्थिति में, अतिरिक्त मृत्यु कवर, यदि चुना गया हो, तत्काल टर्मिनेट हो जाएगा।

लॉयल्टी लाभ

प्रत्येक पॉलिसी वर्ष के अंत में इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान, पॉलिसी वर्ष के दौरान दैनिक औसत फंड वैल्यू के प्रतिशत प्रति वर्ष के रूप में वार्षिक लॉयल्टी बेनिफिट (एलबी) प्रदान करता है। लॉयल्टी लाभ निवेशित फंड की साइज एवं प्रकार पर निर्भर करता है। निर्धारित योगदान स्कीम के लिए औसत दैनिक फंड वैल्यू पर मास्टर पॉलिसी स्तर पर विचार किया जाता है। अतिरिक्त यूनिट, सदस्य यूनिट फंड में यथानुपात आधार पर क्रेटिड कर दी जाती है।

निर्धारित लाभ स्कीम अधिवर्षिता लाभ


एक निर्धारित लाभ स्कीम में, अधिवर्षिता लाभ पूर्व-निर्धारित एवं निश्चित होते हैं, इस अधिवर्षिता पेंशन प्लान में योगदान चाहे जितना किया गया हो। एक तय फार्मूले के माध्यम से इस लाभ राशि की गणना की जाती है, जिसमें विभिन्न कारकों पर विचार किया जाता है जैसे कि कर्मचारी ने संगठन में कितने वर्ष काम किया है, कर्मचारी किस आयु में यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान में शामिल हुआ था, वेतन आदि। सेवानिवृत्ति के समय सदस्य को इस फार्मूले के आधार पर एक निश्चित राशि मिलती है।

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की निर्धारित लाभ (डीबी) योजना के अन्तर्गत केवल एक अधिवर्षिता फंड ही मेन्टेन किया जाता है, तथा पृथक सदस्य खाते नहीं समर्थित होते हैं। मास्टर पॉलिसीधारक को स्कीम के नियमों के अनुसार अधिवर्षिता पेंशन योजना में योगदान करना होता है। स्कीम नियमों में लाभ भुगतान की राशि तथा सदस्य को लाभ भुगतान का समय निर्दिष्ट किया जाता है। लाभ का भुगतान निवेशित फंड से किया जाएगा, जो कि सम्बन्धित ग्रुप पॉलिसी धारक की अधिवर्षिता निधि में सम्बन्धित यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन होगा।

मृत्यु लाभ

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की डीबी स्कीम के अन्तर्गत मृत्यु लाभ, मास्टर पॉलिसीधारक के स्कीम नियमों के अनुसार देय होता है। यदि चुना गया हो, तो रु 5,000 प्रति सदस्य का अतिरिक्त लाभ नामिती को देय होता है।

निहित लाभ (वेस्टिंग बेनिफिट)

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान की डीबी स्कीम के अन्तर्गत निहित लाभ (वेस्टिंग बेनिफिट), पृथक सदस्य के स्कीम नियमों के अनुसार देय होता है (सम्बन्धित समूह पॉलिसीधारक के अधिवर्षिता फंड के तदनुरूपी यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन)।

निकासी लाभ (एक्जिट बेनिफिट)

निकासी (एक्जिट) (सेवा समाप्ति / समयपूर्व सेवानिवृत्ति / पदत्याग आदि) पर सदस्य को मास्टर पॉलिसीधारक के स्कीम नियमों के अनुसार पॉलिसी यूनिट फंड में एकमुश्त लाभ मिलता है (सम्बन्धित समूह पॉलिसीधारक के अधिवर्षिता फंड में तदनुरूपी यूनिट फंड में फंड की उपलब्धता के विषयाधीन)। स्कीम नियमों के अलावा किसी अन्य तरीके से निकासी की स्थिति में आहरण (विड्रॉल) की अनुमति नहीं होगी।

लॉयल्टी लाभ

प्रत्येक पॉलिसी वर्ष के अंत में इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान, अधिवर्षिता पेंशन प्लान वर्ष के दौरान दैनिक औसत फंड वैल्यू के प्रतिशत प्रति वर्ष के रूप में वार्षिक लॉयल्टी बेनिफिट (एलबी) प्रदान करता है। लॉयल्टी लाभ निवेशित फंड की साइज एवं प्रकार पर निर्भर करता है।

फंड विकल्प

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के साथ, आप आपकी जरूरतों के अनुसार कस्टमाइज की गई पॉलिसी से मिलने वाले अधिवर्षिता लाभों का आनंद ले सकते हैं। एक यूनिट लिंक्ड पॉलिसी में आप चुन सकते हैं कि आप किस फंड में अपना धन निवेश करना चाहेंगे, जो इस पर निर्भर करता है कि आप कितने प्रतिफल की अपेक्षा रखते हैं तथा आपकी जोखिम प्रोफाइल क्या है।

  • ग्रुप ग्रोथ एडवांटेज फंड 80-100% परिसम्पत्ति - ईक्विटी में तथा 0-20% परिसम्पत्ति मनी मार्केट में आबंटित करता है। यह अधिवर्षिता पेंशन योजना फंड, मध्यम से उच्च जोखिम पर मध्यम से दीर्घ-कालिक आधार पर उच्च प्रतिफल प्रदान करता है।
  • ग्रुप सिक्योर कैपिटल फंड 70-100% परिसम्पत्ति - डेब्ट सिक्योरिटीज में तथा 0-30% परिसम्पत्ति मनी मार्केट में आबंटित करता है। यह अधिवर्षिता पेंशन योजना फंड, मध्यम निवेश जोखिम पर मध्यम से दीर्घ-कालिक आधार पर मध्यम प्रतिफल प्रदान करता है।
  • ग्रुप मनी मार्केट फंड 0-20% परिसम्पत्ति - डेब्ट सिक्योरिटी में तथा 80-100% परिसम्पत्ति मनी मार्केट में आबंटित करता है। यह अधिवर्षिता पेंशन योजना फंड बहुत ही कम निवेश जोखिम एवं उच्च तरलता पर अल्प अवधि में ब्याज आय प्रदान करता है।

निवेश रणनीति विकल्प

आपको आपके योगदान से सर्वश्रेष्ठ सम्भव प्रतिफल देने के लिए, इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान विभिन्न निवेश रणनीति विकल्प प्रदान करते हैं।

  • सिस्टेमैटिक ट्रांसफर
  • आयु-आधारित परिसम्पत्ति आबंटन रणनीति (केवल डीसी योजनाओं के लिए अनुप्रयोज्य)
  • ऑटोमैटिक ट्रिगर-आधारित निवेश रणनीति

स्विचिंग विकल्प

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत आप निवेश जरूरतों को पूरा करेन के लिए एक यूनिट-लिंक्ड फंड से कुछ या सभी यूनिट को दूसरे फंड में ले जा सकते हैं। इस प्रक्रिया को स्विचिंग कहते हैं। मास्टर पॉलिसीधारक कितनी भी बार स्विच के लिए आवेदन कर सकता है, इसकी कोई सीमा नहीं है।

प्रीमियम रीडायरेक्शन विकल्प

इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत मास्टर पॉलिसीधारक भविष्य के निवेशों को एक भिन्न फंड या फंड समूहों में रीडायरेक्ट करना चुन सकते हैं। वैसे, प्रीमियम रीडायरेक्शन विकल्प के अन्तर्गत आपके योगदान का पिछले आबंटन में कोई बदलाव नहीं होता।

कर लाभ

वर्तमान कर कानूनों के अनुसार - भुगतान किए जाने वाले प्रीमियम एवं प्राप्त किए जाने वाले लाभों पर - कर लाभ (यदि कोई) उपलब्ध हो सकते हैं। कर लाभ आयकर अधिनियम, 1961 के अनुसार समय-समय पर बदलते रहते हैं।

प्राय: पूछे जाने वाले प्रश्न

  • एक यूनिट-लिंक्ड पेंशन क्या है?

    यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान, मार्केट-लिंक्ड पेंशन पॉलिसी हैं। विभिन्न बीमा कम्पनियां यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान प्रदान करती हैं, ये प्लान पूंजी बाजार के साथ लिंक्ड प्रतिफल प्रदान करती हैं। ये प्रतिफल, यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान में योगदान के माध्यम से किए गए आरम्भिक निवेश से अधिक हो सकते हैं। यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान के अन्तर्गत आप कम जोखिम वाले डेब्ट फंड, अधिक जोखिम वाले ईक्विटी फंड, मनी मार्केट, अथवा फंड के कॉम्बिनेशन में निवेश कर सकते हैं।

  • एक यूनिट-लिंक्ड पेंशन पॉलिसी कैसे काम करती है?

    यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान अथवा पेंशन यूलिप पारम्परिक पेंशन उत्पादों से भिन्न होते हैं। पारम्परिक पेंशन पॉलिसी में कम जोखिम वाली सरकारी सिक्योरिटी एवं बॉण्ड में निवेश किया जाता है, वहीं यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान उच्च जोखिम प्रोफाइल वाले लोगों के लिए एक दीर्घ-कालिक निवेश उत्पाद है।

    यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान में आपका योगदान उच्च जोखिम-प्रतिफल वाले ईक्विटी फंड, कम जोखिम-मध्यम प्रतिफल वाले डेब्ट फंड, कम जोखिम-प्रतिफल वाले मनी मार्केट, अथवा इनके संयोजन में निवेश किया जा सकता है।

    ईक्विटी फंड आमतौर पर अन्य परिसम्पत्ति श्रेणियों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करते हैं, इसलिए यूनिट लिंक्ड पेंशन प्लान में निवेश करने से निवेश दीर्घकाल में अच्छीखासी धनराशि तैयार कर सकते हैं।

  • एक समूह अधिवर्षिता योजना क्या है?

    नियोक्ता अपने कर्मचारियों को विभिन्न सेवानिवृत्ति लाभ प्रदान करते हैं, जिसमें ग्रेच्युटी, प्रोविडेंट फंड, तथा अधिवर्षिता लाभ शामिल हैं। एक अधिवर्षिता योजना एक कम्पनी पेंशन कार्यक्रम है, नियोक्ता जिसे अपने कर्मचारियों के लाभ के लिए बनाता है।

    एक ग्रुप स्कीम में नियोक्ता मास्टर पॉलिसीधारक होता है, तथा कर्मचारी - समूह के लाभार्थी या सदस्य होते हैं। अधिकांश योगदान नियोक्ता द्वारा दिया जाता है, हालांकि सदस्य भी पॉलिसी प्रावधानों के आधार पर इस अधिवर्षिता योजना में स्वैच्छिक रूप से योगदान कर सकते हैं।

  • क्या अधिवर्षिता एवं पेंशन एक ही चीज है?

    पेंशन एक सेवानिवृत्ति पॉलिसी या प्लान होता है, जो सेवानिवृत्ति के बाद पेंशनर को एक मासिक आय प्रदान करता है। सेवानिवृत्ति पेंशन स्कीम जैसे नेशनल पेंशन स्कीम सरकारी पहल हैं। आप एक जीवन बीमा कम्पनी के साथ अपना पेंशन प्लान आरम्भ करना चुन सकते हैं। एक पेंशन प्लान का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना होता है कि, आपके कार्य वर्षों के दौरान नियमित रूप से एक निश्चित राशि का निवेश करने के द्वारा आपको सेवानिवृत्ति के बाद नियमित आय मिलती रहे। आप एक पेंशन फंड में योगदान कर सकते हैं, जो आपके चुने गए समय पर आरम्भ हो जाएगा।

    अधिवर्षिता का अर्थ है आयु अथवा काम करने की अक्षमता के कारण सेवानिवृत्ति होना। एक अधिवर्षिता पेंशन योजना एक संगठनात्मक पेंशन प्लान है, जिसमें नियोक्ता, कर्मचारी या दोनों योगदान का योगदान होता है। एक अधिवर्षिता पेंशन योजना कम्पनी की कार्यपूंजी को सुरक्षित बनाए रखने में सहायता कर सकती है, तथा आप एक धनसंग्रह बना सकते हैं, जिससे आप अपने कर्मचारियों को सेवानिवृत्ति देयताओं का भुगतान कर सकते हैं। इंडियाफर्स्ट ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन पेंशन प्लान एक मार्केट-लिंक्ड कम्पनी पेंशन प्लान है, जो नियोक्ता एवं कर्मचारियों को लाभ प्रदान करता है।

  • इंडियाफर्स्ट लाइफ ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन प्लान के अन्तर्गत क्या चार्जेज हैं?

    प्रत्येक यूनिट-लिंक्ड प्लान में कुछ चार्ज लगाए जाते हैं। इंडियाफर्स्ट ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन पेंशन प्लान में कोई आबंटन चार्ज, पॉलिसी प्रशासन चार्ज, स्विचिंग कॉस्ट, या प्रीमियम रीडायरेक्शन चार्ज नहीं होता। इस प्लान के अन्तर्गत एक फंड प्रबन्धन चार्ज, मोरटैलिटी चार्ज, तथा सरेंडर चार्ज लगाए जा सकते हैं। बीमा कम्पनी, आईआरडीएआई से पूर्व अनुमोदन के विषयाधीन, चार्ज लगाना आरम्भ करने का अधिकार सुरक्षित रखती है।

  • क्या इंडियाफर्स्ट ग्रुप यूनिट लिंक्ड सुपरएन्युएशन पेंशन प्लान के अन्तर्गत कोई ग्रेस पीरियड होता है?

    हाँ, मान लीजिए, लाइफ कवर प्रीमियम का भुगतान मास्टर पॉलिसीधारक / सदस्य द्वारा अलग-अलग किया जाता है। ऐसी स्थिति में वार्षिक, अर्द्ध-वार्षिक, तथा त्रैमासिक प्रीमियम भुगतान मोड के लिए 30 दिनों का ग्रेस पीरियड तथा मासिक प्रीमियम भुगतान मोड के लिए 15 ग्रेस पीरियड है। पॉलिसी इस अवधि के दौरान पूरा लाइफ कवर लाभ प्रदान करना जारी रखती है।